हिमाचली संस्कृति को बढ़ावा दे रहे हैं लोक गायक हितेंद्र साहसी , 100 से अधिक गीत मार्किट में मचा रहे हैं धमाल

0
102

( धनेश गौतम ) हिमाचल प्रदेश में ऐसे बहुत सारे लोक कलाकार एवं गायक है जो प्रदेश की संस्कृति को बढ़ावा दे रहें है। एसडी कश्यप ने जहां संगीत की दुनिया में प्रदेश को एक नई दिशा दी और प्रदेश का नाम हर जगह रोशन किया है वहीं प्रदेश में प्रतिभावान कलाकारों की भी कमी नहीं है। गीत व संगीत की इस दुनिया में आउटर सराज का भी बड़ा नाम है और यहां से हितेंद्र साहसी ने प्रदेश की संस्कृति को संजोए रखने व गीतों को अपनी मधुर आवाज देने का बीड़ा उठाया है। हितेंद्र के 100 से अधिक गीत मार्किट में धमाल मचा रहे हैं और उनकी प्रतिभा व मधुर आवाज के कारण आज वे पहचान के मोहताज नहीं है।

यदि प्रदेश में  आउटर सराज के गीत संगीत की चर्चा होती है तो हितेंद्र साहसी का नाम जुबान पर जरूर आता है। लोगों का मनोरंजन करने में माहिर साहसी का कहना है कि वे इस कला को भगवान की देन मानते हैं और हमेशा प्रदेश की संस्कृति को अपनी मधुर आवाज में संजोने का प्रयास किया है और भविष्य में भी यह अभियान जारी रहेगा। पिछले 10 वर्षों से संगीत के क्षेत्र में प्रवेश करने बाले हितेंद्र ने अभी तक कई हिट गीतों को लिखा व गाया है।

हाल ही में धर्मशाला के पुलिस मैदान में हिलीबुड एसोसिएशन द्बारा हिमाचली कलाकारों एवं संगीत के क्षेत्र में काम कर रहे महान शख्सियतों को हिमाचल म्यूजिक  अवार्ड 2018 से नवाजा गया जिसमें हितेंद्र साहसी को भी कला के क्षेत्र में आवार्ड दिया गया और वे इस आवार्ड को पाकर अपने आपको गौरवांवित महसूस कर रहे हैं। उनका कहना है कि इस तरह के सम्मान से कलाकारों का हौसला बढ़ता है और वे अपने कार्य में निरंतर आगे बढ़ते हैं। बहरहाल हिमाचली गीत संगीत में हितेंद्र साहसी ने भी जहां अपना नाम रोशन किया है वहीं प्रदेश की संस्कृति को संजोने में अहम योगदान दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here